Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव उनके बांद्रा स्थित फ्लैट से बरामद हुआ था। जिसके बाद ED के हाथों होता हुआ यह केस NCB तक पहुंचा। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव उनके बांद्रा स्थित फ्लैट से बरामद हुआ था। जिसके बाद ED के हाथों होता हुआ यह केस NCB तक पहुंचा। -फाइल फोटो

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को कथित रूप से ड्रग्स सप्लाई करने वाले पैडलर को गिरफ्तार किया है। NCB के प्रमुख समीर वानखेड़े ने सोमवार को बताया कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स मुहैया कराने वाले एक व्यक्ति सहित तीन लोगों को गोवा से गिरफ्तार किया गया है।

सुशांत को ड्रग्स सप्लाई करने वाले आरोपी की पहचान हेमंत शाह उर्फ महाराज के रूप में हुई है। हेमंत का नाम सुशांत ड्रग्स केस में गिरफ्तार हुए अनुज केसवानी और रीगल महाकाल ने भी पूछताछ के दौरान लिया था। दोनों के खिलाफ NCB ने कुछ दिन पहले चार्जशीट दायर की है। हेमंत मूल रूप से मध्यप्रदेश का रहने वाला है और पिछले कुछ सालों से गोवा में बिजनेस कर रहा था। उसके घर पर भी पुलिस ने रेड की है, वहां से LSD और 30 ग्राम चरस बरामद हुई है।

गोवा से बरामद हुई भारी मात्रा में ड्रग्स
NCB की गोवा सब जोनल यूनिट और मुंबई NCB की एक ऑपरेशनल टीम ने माजल वाड़ो, असगांव में 7 और 8 मार्च की रात छापेमारी कर भारी मात्रा में ड्रग्स बरामद की है। इनमें LSD (कमर्शियल क्वांटिटी), चरस 28 ग्राम, कोकीन 22 ग्राम, गांजा 1.1 किलो और 160 ग्राम साइकोट्रॉपिक पदार्थ बरामद किया है। इसके अलावा 500 ग्राम ब्लू क्रिस्टल साइकोट्रॉपिक पदार्थ बरामद किया है।

इसी मामले में एक ड्रग पैडलर और दो विदेशी नागरिकों, उगोचुकु सोलोमन उबाबुको (नाइजीरिया) और जॉन इन्फिनिटी डेविड (कांगो) को पकड़ा गया है। इनके पास से 10 हजार रुपए की भारतीय करेंसी भी बरामद हुई है।

सुशांत का केस NCB के हाथ ऐसे आया
सुशांत की मौत के दो महीने बाद उनके पिता ने पटना में केस दर्ज कराया था। यह केस सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया और रिया के परिवार के सदस्यों समेत 5 लोगों के खिलाफ था। इन सभी पर सुशांत के 17 करोड़ रुपए हड़पने का आरोप लगाया गया था। इसके बाद रिया ने सुप्रीम कोर्ट से यह केस मुंबई ट्रांसफर करने की गुहार लगाई थी।

अदालत ने यह केस CBI को सौंप दिया था। यहीं से प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एंट्री इस केस में हुई और रिया के वॉट्सऐप चैट की जांच से ड्रग्स का एंगल सामने आया। ड्रग्स से जुड़ी चैट मिलने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की एंट्री हुई और बॉलीवुड में चल रहे बड़े ड्रग्स का रैकेट का भंडाफोड़ हुआ।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *