19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पायल घोष के खिलाफ रिचा चड्ढा ने बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस दाखिल किया है। यह केस 5 अक्टूबर को दायर किया गया था। लेकिन पायल की ओर से एक ही दिन में आए दो बयानों ने कहानी में नया मोड़ ला दिया है। पहले पायल के वकील ने हाईकोर्ट से कहा था कि वे माफी मांगने और स्टेटमेंट वापस लेने को तैयार हैं। हालांकि कुछ ही समय बाद पायल ने ट्वीट कर इस बात से इनकार कर दिया। पायल ने लिखा- वे किसी से माफी नहीं मांगेगी।

पायल ने कहा सॉरी नॉट सॉरी

पायल ने इस ट्वीट में लिखा- मैं किसी से माफी नहीं मांग रही हूं। मैंने कुछ गलत नहीं किया और न ही किसी के खिलाफ गलत बयान दिया है। मैंने बस वही कहा जो अनुराग कश्यप ने मुझसे कहा था। माफ करें माफी नहीं। वहीं एक और ट्वीट में पायल ने कहा था- मैंने मिस चडढा के साथ कुछ नहीं किया था। एक महिला होने के नाते हमें एक-दूसरे के लिए खड़े होना चाहिए। कंधे से कंधा मिलाकर। मैं इस मामले में उन पर बिना किसी इंटेंशन के कोई शोषण नहीं कर रही हूं। मेरी लड़ाई न्याय के लिए और अनुराग कश्यप के खिलाफ है। और मैं अब अकेले लड़ऩे में यकीन कर रही हूं। अब दुनिया के सामने उसका असली चेहरा आएगा।

इसके पहले उनकी ओर से वकील ने हाईकोर्ट में लिखित में दिया था कि- उन्होंने अनजाने में रिचा के खिलाफ अपमानजनक बयान दे दिया था। एक महिला होने के नाते वो हमेशा महिला के साथ ही खड़ी होती हैं, क्योंकि महिलाएं पुरुष प्रधान समाज में रहती हैं।

दिनभर में बदली दो तस्वीरें

पायल के ट्वीट से पहले हाईकोर्ट ने कहा था कि अगर पायल अपने बयान पर माफी मांगने को तैयार हैं तो यह केस खत्म किया जा सकता है। इसके बाद पायल ने बुधवार को माफी मांगने को तैयार हैं। वहीं जस्टिस एके मेनन की बेंच ने एक टेम्परेरी ऑर्डर पास करते हुए 12 अक्टूबर तक रिचा के खिलाफ मानहानि करने वाले कंटेन्ट को टेलीकास्ट होने से रोकने कहा है। रिचा ने पायल और कमाल आर खान सहित एक न्यूज चैनल पर 1.1 करोड़ रुपए की मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *