36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विकी डोनर, हजारों ख्वाहिशें ऐसी और दिल्ली क्राइम जैसी फिल्मों में काम कर चुके भूपेश कुमार पंड्या नहीं रहे। पैसों की तंगी के चलते उनका इलाज नहीं हो पा रहा था। लंग कैंसर की चौथी स्टेज से जूझ रहे भूपेश के लिए एक दिन पहले ही ऑनलाइन कैम्पेन के जरिए 21 लाख रुपए जुटाए गए थे। भूपेश का इलाज अहमदाबाद में चल रहा था।

मनोज, राजेश और गजराज आए थे आगे

तीन दिन पहले जब यह खबर सामने आई कि भूपेश को इलाज के लिए 25 लाख रुपए की जरूरत है तो उनकी मदद के लिए मनोज वाजपेयी, राजेश तैलंग और गजराज राव ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया था। मनोज वाजपेयी ने ही फंडरेजर की लिंक शेयर करते हुए मदद की अपील भी की थी। लेकिन इसके बावजूद भूपेश की जिंदगी नहीं बचाई जा सकी।

भूपेश नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से ग्रेजुएट थे और कई फिल्मों-टीवी शो में काम कर चुके थे। भूपेश के परिवार में दो बच्चे और उनकी पत्नी छाया पंड्या हैं।

बैचमेट ने शुरू किया था कैम्पेन

भूपेश की बैचमेट रहीं कशिश अग्निहोत्री ने उनके लिए फंड रेजिंग करने कैम्पेन शुरू किया था। जिसमें उन्हें एनएसडी और बाकी एक्टर्स का भी सपोर्ट मिला था। भूपे​​​​​​​श की पत्नी छाया स्कूल टीचर थीं, लेकिन लॉकडाउन में उनकी नौकरी चली गई थी। इस वजह से परिवार को और ज्यादा मुसीबतों का सामना करना पड़ा।

0





Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *