Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

10 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन का आज 40वां और अहम दिन है। आज दोपहर 2 बजे किसानों की सरकार के साथ 8वें राउंड की बातचीत होनी है। इस बीच बॉलीवुड एक्टर धर्मेंद्र एक बार फिर किसानों के समर्थन में आए। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर लिखा, “आज मेरे भाईयों को इंसाफ मिल जाए; जी जान से अरदास करता हूं। हर नेक रूह को सुकून मिल जाएगा।”

मांगें नहीं मानी तो प्रदर्शन और तेज किया जाएगा
सरकार को उम्मीद है कि आज आंदोलन खत्म हो सकता है। वहीं किसान संगठनों ने कहा है कि सरकार ने मांगें नहीं मानी तो प्रदर्शन और तेज किया जाएगा। किसान नेता मनजीत सिंह राय ने कहा कि बातचीत का नतीजा नहीं निकला तो 13 जनवरी को कृषि कानूनों की कॉपी जलाकर लोहड़ी मनाएंगे।

किसान भाइयों की पीड़ा को देखकर बेहद दुखी हूं
इससे पहले भी धर्मेंद्र ने किसानों के समर्थन में सोशल मीडिया पर कई पोस्ट किए हैं। उन्होंने एक पोस्ट शेयर कर लिखा था, मैं अपने किसान भाइयों की पीड़ा को देखकर बेहद दुखी हूं। सरकार को तेजी से इसका समाधान करना चाहिए। इससे पहले उन्होंने लिखा था, “सरकार से प्रार्थना है किसान भाइयों की प्रॉब्लम्स का कोई हल जल्दी तलाश कर लें। कोरोना के केस दिल्ली में बढ़ते जा रहे हैं। यह दर्दनाक है।”

‘देशभर में अफरा-तफरी, जन्मदिन कैसे मनाऊं’
अपने 85वें जन्मदिन पर टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में धर्मेंद्र ने कहा था, “लोग कोरोनावायरस को भूल गए हैं। देशभर में अफरा-तफरी फैली है। मैं जन्मदिन कैसे मनाऊं? हम सब भारत मां के बच्चे हैं। इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं। किसी की शराफत, मजबूरी या इंसानियत का फायदा न उठाएं। किसान क्या बोलना चाहते हैं, उनकी बात एक बार सुन लो। वो इतनी सर्दी में सड़कों पे बैठे हैं। एक आपसी संवाद से हल निकल सकता है।”

सोशल मीडिया को बताया था जहरीली जगह
धर्मेंद्र ने इससे पहले किसान आंदोलन को लेकर एक सोशल मीडिया पोस्ट की थी, जो बाद में उन्हें डिलीट करनी पड़ी थी। पोस्ट डिलीट करने पर वे ट्रोल भी हुए थे। इसकी सफाई में उन्होंने इंटरव्यू में कहा, “मेरा मकसद सिर्फ यह बोलना था कि किसानों की बात सुन लीजिए। मैं हमेशा पॉजिटिव बात करता हूं, लेकिन लोग उसका अलग ही मतलब निकालते हैं। ट्विटर पर भड़ास निकालते हैं। मैं अब इससे दूरी बनाकर रखूंगा। क्योंकि यह बहुत जहरीला हो चुका है। दिल तोड़ देते हैं लोग।”



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *