2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शिकायतकर्ता का आरोप है कि कंगना रनोट के अंदर देश की विविधता और कानून का सम्मान नहीं है।

  • 10 दिन पहले कर्नाटक के तुमकुर में कंगना के खिलाफ किसानों के अपमान मामले में एफआईआर दर्ज हुई थी
  • कंगना के खिलाफ दूसरी एफआईआर बांद्रा थाने में हुई, उन पर धर्म के नाम पर नफरत फैलाने का आरोप लगा

कंगना रनोट के खिलाफ मुंबई में एक और एफआईआर दर्ज हुई है। अब उन पर न्यायपालिका के खिलाफ दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक पोस्ट करने का आरोप लगा है। मुंबई बेस्ड वकील अली काशिफ खान देशमुख ने अंधेरी मजिस्ट्रेट कोर्ट में दी अपनी शिकायत में एक्ट्रेस पर दो धार्मिक समुदायों के बीच विद्रोह और मनमुटाव पैदा करने का आरोप भी लगाया है।

देशमुख ने शिकायत में क्या लिखा

देशमुख ने अपनी शिकायत में लिखा है कि एक्ट्रेस के अंदर देश की विविधता और कानून का सम्मान नहीं है। यहां तक कि वे न्यायपालिका का भी मजाक उड़ाती हैं। बांद्रा कोर्ट ने एफआईआर के आदेश दिए तो कंगना रनोट ने ‘पप्पू सेना’ टर्म का इस्तेमाल करते हुए न्यायपालिका के खिलाफ दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक ट्वीट किए। इस मामले में 10 नवंबर को अंधेरी कोर्ट में सुनवाई होगी।

10 दिन में कंगना के खिलाफ तीसरी एफआईआर

कंगना रनोट के खिलाफ 10 दिन के अंदर यह तीसरी एफआईआर है। करीब 10 दिन पहले किसानों के अपमान के आरोप में तुमकुर (कर्नाटक) के क्याथासांद्रा थाने में कंगना के खिलाफ FIR दर्ज हुई थी। उनके खिलाफ शिकायत करने वाले वकील एल. रमेश नाइक ने अपनी याचिका में कहा था कि खेती से जुड़े बिलों का विरोध कर रहे किसानों को आतंकवादी कहकर कंगना ने उनका अपमान किया है।

5 दिन पहले कास्टिंग डायरेक्टर और फिटनेस ट्रेलर साहिल अशरफ अली सैयद की याचिका पर सुनवाई करते हुए बांद्रा कोर्ट ने एक्ट्रेस के खिलाफ एफआईआर का आदेश दिया था। साहिल अशरफ अली सैयद ने एक्ट्रेस और उनकी बहन रंगोली चंदेल पर बॉलीवुड में धर्म के नाम पर फूट डालने का आरोप लगाया है। मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए कंगना को 26 अक्टूबर और रंगोली को 27 अक्टूबर को बुलाया है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *