एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • 9 सितंबर को बीएमसी ने कंगना रनोट के ऑफिस में तोड़फोड़ की थी
  • कंगना के मुंबई को पीओके बताने वाले बयान के बाद हुई थी कार्रवाई

कंगना रनोट ने ट्विटर के जरिए अपने फैन्स को दशहरे की शुभकामनाएं दी हैं। इसके साथ ही उन्होंने शिवसेना नेता संजय राउत पर निशाना साधा है। उन्होंने अपने टूटे हुए ऑफिस की फोटो साझा करते हुए लिखा है, “मेरा टूटा हुआ सपना तुम्हे देखकर मुस्करा रहा है। पप्पू सेना मेरा घर तोड़ सकती है। लेकिन मेरे हौसले को नहीं। बंगला नं. 5 बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न मना रहा है। हैप्पी दशहरा।”

9 सितंबर को तोड़ा गया था कंगना का ऑफिस

बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (बीएमसी) ने 9 सितंबर को कंगना के ऑफिस को अवैध बताते हुए इसमें तोड़फोड़ की थी। बताया जाता है कि इस बंगले का 40 फीसदी हिस्सा बीएमसी ने ध्वस्त किया था। इसमें झूमर, सोफा और दुर्लभ कलाकृतियों समेत कई कीमती संपत्ति भी शामिल थी।

तोड़फोड़ के खिलाफ कंगना ने बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और बीएमसी से 2 करोड़ रुपए के हर्जाने की मांग की थी। बॉम्बे हाई कोर्ट इस मामले में दोनों पक्षों की दलीलें सुन चुका है। हालांकि, अभी इस पर फैसला आना बाकी है।

कंगना ने 2017 में खरीदा था यह बंगला

कंगना ने पाली हिल वाला यह बंगला 2017 में खरीदा था। इस साल जनवरी में इसके रिनोवेशन का काम पूरा हुआ था। उन्होंने इसे ऑफिस-कम-रेजिडेंस बनाया था। बीएमसी ने इसमें अवैध निर्माण बताया था। उसके 1979 के प्लान के मुताबिक यह बंगला रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी में लिस्टेड है।

कंगना के एक ट्वीट के बाद हुई थी कार्रवाई

कंगना रनोट ने अपने एक ट्वीट में शिवसेना नेता संजय राउत पर निशाना साधते हुए कहा था कि उन्होंने उन्हें मुंबई न आने की धमकी दी है। एक्ट्रेस ने अपने इस ट्वीट में यह भी कहा था कि मुंबई उन्हें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) की तरह लग रहा है। रिपोर्ट्स की मानें तो उनके इसी बयान से नाराज शिवसेना के इशारे पर बीएमसी ने उनके ऑफिस में तोड़फोड़ की थी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *