Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शेफाली शाह और अक्षय कुमार फिल्म ‘वक्त : रेस अगेंस्ट टाइम’ के एक सीन में।

‘दिल्ली क्राइम’ जैसी वेब सीरीज में अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुकीं शेफाली शाह की मानें तो वे बहुत छोटी उम्र में टाइप कास्ट हो गई थीं। उन्होंने कहा कि ऐसा होने के लिए वे एक निश्चित उम्र तक भी नहीं पहुंच पाई थीं। शेफाली ने एक इंटरव्यू में अपना दर्द बयान करते हुए कहा कि टाइप कास्ट होने की वजह से उन्हें उम्र में अपने से बड़े अक्षय कुमार की मां का रोल करना पड़ा था।

28-30 की उम्र में बनी अक्षय की मां

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में शेफाली ने कहा, “मैं बहुत छोटी उम्र में मां के रोल के लिए टाइप कास्ट हो गई थी। यहां तक कि मैं एक निश्चित उम्र तक भी नहीं पहुंच पाई थी। जब मैं 20 साल की थी, तब एक शो में मैं 15 साल के बच्चे की मां बनी थी। जब मैंने 45 साल की मां का रोल किया, तब 20 साल की थी। फिर जब मैं 28-30 साल की हुई, तब मैंने अक्षय कुमार की मां का रोल किया।”

कई साल प्रोजेक्ट्स ठुकराती रहीं

शेफाली शाह की मानें तो उन्होंने कई रोल सिर्फ इसलिए ठुकरा दिए, क्योंकि उनमें ज्यादा एक्साइटमेंट नहीं था। वे कहती हैं, “कई साल तक मैं काम से इनकार करती रही, क्योंकि यह उचित नहीं था। फिर ‘जूस’ (वेब सीरीज) आई। फिर ‘वन्स अगेन’ (फिल्म), जो कि बहुत खूबसूरत लव स्टोरी थी। उसके बाद ‘दिल्ली क्राइम’ (वेब सीरीज)। इन तीनों प्रोजेक्ट्स ने मुझे फ्रेम के सेंटर में रख दिया। मेरे लिए रास्ते खुल गए हैं और अब मैं वह काम कर रही हूं, जो करना चाहती हूं।”

वक्त में किया था अक्षय की मां का रोल

शेफाली ने 2005 में रिलीज हुई फिल्म ‘वक्त : रेस अगेंस्ट टाइम’ में अक्षय कुमार की मां और अमिताभ बच्चन की पत्नी का रोल किया था। उस वक्त वे करीब 33 साल की थीं और अक्षय 38 के। वे नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘दिल्ली क्राइम’ में डीसीपी वर्तिका चतुर्वेदी की भूमिका में नजर आई थीं। 2012 में दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप केस पर बनी इस वेब सीरीज को पिछले महीने इंटरनेशनल एमी अवॉर्ड्स में बेस्ट वेब सीरीज चुना गया। यह इस इंटरनेशनल अवॉर्ड को जीतने वाली पहली इंडियन सीरीज है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *