नई दिल्ली41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • बैंक का रिटेल लोन सालाना आधार पर 13% और तिमाही आधार पर 6% बढ़ा है
  • मोर्गेज, ऑटो लोन सितंबर तिमाही में कोरोना के पहले के स्तर पर पहुंच गया है

निजी क्षेत्र के दूसरे सबसे बड़े बैंक ICICI बैंक को दूसरी तिमाही में 4,251 करोड़ रुपए का शुद्ध फायदा हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में हुए 655 करोड़ रुपए की तुलना में यह लाभ 6 गुना बढ़ा है। बैंक ने शनिवार को अपना रिजल्ट जारी किया। बैंक का शेयर बीएसई पर शुक्रवार को 392 रुपए पर बंद हुआ था।

शुद्ध ब्याज आय 16 पर्सेंट बढ़ी

बैंक ने बताया कि उसकी शुद्ध ब्याज आय (NII) इसी दौरान 16 % बढ़कर सालाना आधार पर 9,366 करोड़ रुपए रही है। एक साल पहले जुलाई-सितंबर में यह आंकड़ा 8,057 करोड़ रुपए था। कुल जमा राशि बैंक की 20% बढ़कर सालाना आधार पर 8 लाख 32 हजार 936 करोड़ रुपए हो गई है। चालू और बचत खाता (कासा) डिपॉजिट में 17% की ग्रोथ हुई है।

टर्म डिपॉजिट 26 पर्सेंट बढ़ी

बैंक ने बताया कि इसकी टर्म डिपॉजिट में 26% की बढ़त हुई है। बैंक का घरेलू स्तर पर दिया गया कर्ज 10% सालाना आधार पर जबकि 4 पर्सेंट तिमाही आधार पर बढ़ा है। रिटेल लोन सालाना आधार पर 13% और तिमाही आधार पर 6% बढ़ा है। बैंक ने बताया कि मोर्गेज, ऑटो लोन का स्तर सितंबर तिमाही में कोरोना के पहले के स्तर पर पहुंच गया है। बैंक ने बताया कि क्रेडिट कार्ड से खर्च कोविड के पहले के 85% के स्तर पर पहुंच गया है। इसमें हेल्थ, वेलनेस इलेक्ट्रॉनिक्स और ई-कॉमर्स जैसे सेक्टर में खरीदी की गई है।

एनपीए में आई कमी

बैंक ने बताया कि जुलाई से सितंबर के दौरान उसका ग्रॉस बुरा फंसा कर्ज NPA 5.17 पर्सेंट रहा है जो एक साल पहले 6.37% था। शुद्ध NPA जून तिमाही में 1.23% से घटकर 1% पर आ गया है। तिमाही के दौरान बैंक ने रिकवरी की जिससे उसके NPA में कमी आई। इस साल की पहली तिमाही में बैंक का शुद्ध लाभ 1,131 करोड़ रुपए था। बैंक के पास कुल 5,288 शाखाएं हैं जबकि 15 हजार 158 एटीएम हैं।

रिलायंस इंडस्ट्रीज का रिजल्ट:RIL को 9,567 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा, एक साल पहले की तुलना में 15% की गिरावट

कोटक महिंद्रा बैंक को Q2 में 2,184 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ, पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 27% बढ़ा

दूसरी तिमाही में एचडीएफसी बैंक का लोन 16 प्रतिशत बढ़ा जबकि डिपॉजिट में 20% की बढ़त रही, इंडस्ट्री की तुलना में लोन तीन गुना बढ़ा

रिलैक्सो फुटवेयर्स का भी बढ़ा मुनाफा

उधर, कोरोना काल में रिलैक्सो फुटवेयर्स का भी मुनाफा बढ़ा है। शनिवार को कंपनी ने सितंबर समाप्त तिमाही का परिमाण घोषित किया। रिलैक्सो फुटवेयर्स लिमिटेड ने दूसरी तिमाही में 6.46 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। इस तिमाही कंपनी का शुद्ध लाभ 75.10 करोड़ रुपए रहा। पहली तिमाही में कंपनी ने 70.54 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया था।

उसकी ऑपरेटिंग इनकम 7.38 प्रतिशत गिरकर 575.87 करोड़ रुपए रही। पिछले साल इसी तिमाही में यह आय 621.77 करोड़ रुपए थी। इस दौरान कंपनी का कुल खर्च 12.48 प्रतिशत घटकर 480.56 करोड़ रुपए पर आ गया। पिछले साल इस दौरान यह 549.12 करोड़ रुपए था। रिलैक्सो फुटवेयर्स ने कहा कि कंपनी के संचालन लगभग कोविड के पहले जैसे ​​स्तर पर है। लिक्विडिटी की स्थिति भी काफी अच्छी है।

जेएसडब्ल्यू होल्डिंग्स का मुनाफा घटकर 39 करोड़ रुपए

जेएसडब्ल्यू ग्रुप की गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी जेएसडब्ल्यू होल्डिंग्स (JSW Holdings) को दूसरी तिमाही में नुकसान हुआ है। 30 सितंबर, 2020 को समाप्त तिमाही के दौरान कंपनी का मुनाफा 48.1 प्रतिशत गिरकर 39.18 करोड़ रुपए रहा। कंपनी ने शनिवार को शेयर बाजार को बताया कि एक साल पहले की समान अवधि में उसका शुद्ध लाभ 76.20 करोड़ रुपए था। फाइलिंग में कहा गया है कि जुलाई-सितंबर 2020-21 के दौरान कंपनी की कुल आय एक साल पहले की अवधि में 85.48 करोड़ रुपए से घटकर 50.32 करोड़ रुपए रह गई।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *