• Hindi News
  • Business
  • HDFC Bank’s Net Banking And Mobile App Service Crumbles Again, Customers Complain

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई37 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
आज बैंक के प्रोसेसिंग ट्रांजेक्शन में समस्या है। ग्राहक इसकी नेट बैंकिंग और ऐप सेवा को एक्सेस करने में फेल हो रहे हैं। कुछ ग्राहकों ने कहा कि इसकी UPI सेवा भी नहीं चल रही है। बैंक ने हालांकि इस तरह की किसी असुविधा के लिए ग्राहकों से माफी मांगी है - Dainik Bhaskar

आज बैंक के प्रोसेसिंग ट्रांजेक्शन में समस्या है। ग्राहक इसकी नेट बैंकिंग और ऐप सेवा को एक्सेस करने में फेल हो रहे हैं। कुछ ग्राहकों ने कहा कि इसकी UPI सेवा भी नहीं चल रही है। बैंक ने हालांकि इस तरह की किसी असुविधा के लिए ग्राहकों से माफी मांगी है

  • नवंबर में बैंक की आईटी सेवा में दिक्कत आई थी
  • इस पर 10 लाख रुपए का जुर्माना रिजर्व बैंक ने लगाया था

देश के निजी सेक्टर के सबसे बड़े बैंक HDFC बैंक में एक बार फिर नेट बैंकिंग और ऐप सेवा चरमरा गई है। ढेर सारे इसके ग्राहकों ने सोशल मीडिया पर इसकी शिकायत की है।

प्रोसेसिंग ट्रांजेक्शन में समस्या

जानकारी के मुताबिक, आज इसके प्रोसेसिंग ट्रांजेक्शन में आज समस्या है। ग्राहक इसकी नेट बैंकिंग और ऐप सेवा को एक्सेस करने में फेल हो रहे हैं। कुछ ग्राहकों ने कहा कि इसकी UPI सेवा भी नहीं चल रही है। बैंक ने हालांकि इस तरह की किसी असुविधा के लिए ग्राहकों से माफी मांगी है।

नवंबर में रिजर्व बैंक ने दिया था आदेश

इससे पहले भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने HDFC बैंक की सभी डिजिटल लॉन्चिंग को रोकने का आदेश नवंबर में दिया था। इसमें नए क्रेडिट कार्ड भी शामिल हैं। हालांकि, यह आदेश अस्थाई था, पर अभी तक यह लागू है। दो सालों में बैंक के लिए यह तीसरा बड़ा झटका लगा है। इसी मामले में रिजर्व बैंक ने 10 लाख रुपए का जुर्माना बैंक पर लगाया था।

लगातार बैंक की सुविधा में रुकावट

आरबीआई ने कहा था कि बैंक की इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, पेमेंट यूटिलिटीज में लगातार कई रुकावटें आती रही हैं। यह दो साल से यह चल रहा है। 21 नवंबर को बैंक की इंटरनेट बैंकिंग और पेमेंट सिस्टम में गड़बड़ी पाई गई थी। यह गड़बड़ी प्राइमरी डेटा सेंटर में पावर फेल होने के कारण हुई थी। इसी मामले में रिजर्व बैंक ने 10 लाख रुपए का जुर्माना बैंक पर लगाया था।

डिजिटल 2.0 भी अटका

HDFC बैंक अपने डिजिटल 2.0 को लॉन्च करने की तैयारी कर रहा है, जिसमें ढेर सारे डिजिटल चैनल लांच होंगे। ऐसे में RBI का आदेश बैंक के लिए बड़ा झटका है। इसके साथ ही अन्य सभी बिजनेस जनरेटिंग IT एप्लीकेशन को भी रोकने का आदेश दिया है। इसमें नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों को सोर्सिंग करने पर भी पाबंदी लगाई गई है।

आरबीआई ने आईटी इंफ्रा के ऑडिट के लिए की नियुक्ति

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बैंक के IT इंफ्रा के ऑडिट के लिए प्रोफेशनल ऑडिट कंपनी की नियुक्त कर दी है। ऐसा इसलिए क्योंकि हाल में बैंक का IT प्लेटफॉर्म कई बार बंद हो गया था। जानकारी के मुताबिक, RBI ने पहले ही IT इंफ्रास्ट्रक्चर पर एक रिपोर्ट मांगी थी। इसी रिपोर्ट के बाद बैंक के इंफ्रास्ट्रक्चर की जांच के लिए एक थर्ड पार्टी को नियुक्त किया गया है।

हाल में कई बार बैंक की IT सेवाएं बंद हो गई थीं। इसी के बाद रिजर्व बैंक ने HDFC बैंक पर नए क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड जैसी डिजिटल सेवाओं को लांच करने पर रोक लगा दी थी। यह रोक अभी भी जारी है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *