नई दिल्ली3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • 2017 में याहू को खरीदने वाले वेरीजोन ने मंगलवार को इसकी घोषणा की

पिछले कई सालों से कम यूज होने के कारण Yahoo ने अब याहू ग्रुप्स को 15 दिसंबर से अपने बंद करने का निर्णय लिया है। 2017 में याहू को खरीदने वाले वेरीजोन ने मंगलवार को इसकी घोषणा की। याहू वेब पर अपने समय का सबसे बड़ा मैसेज बोर्ड सिस्टम रहा है, जो अब अपना सफर इस साल के अंत में खत्म करने जा रहा है।

कंपनी ने क्या कहा?

कंपनी ने अपने मैसेज में लिखा कि याहू ग्रुप्स ने पिछले कई वर्षों में उपयोग में लगातार गिरावट देखी है। इसी अवधि में हमने यह भी देखा कि ग्राहक प्रीमियम और भरोसेमंद सामग्री चाहते हैं, हालांकि ऐसे निर्णय करना कभी भी आसान नहीं होता है लेकिन, हमें कभी-कभी उन उत्पादों के बारे में कठिन निर्णय ले लेने चाहिए जो कि लंबे समय मार्केटिंग स्ट्रेटेजिक के लिए ठीक हैं। अब हम व्यवसाय के अन्य क्षेत्रों पर अपना ध्यान केंद्रित करेंगे।

अब ईमेल भेज सकते हैं या नहीं ?

कंपनी ने कहा कि आपके द्वारा भेजे गए और प्राप्त किए गए ईमेल आपके ईमेल में रहेंगे, लेकिन 15 दिसंबर से ग्रुप मेंबर्स को मेल न भेजना और प्राप्त करना संभव नहीं होगा। अमेरिकी वायरलेस कम्यूनिकेशन सर्विस प्रोवाइडर वेरीजोन ने 2017 में याहू के इंटरनेट कारोबार को 4.8 बिलियन डॉलर में खरीदा था। याहू ग्रुप्स सर्विस 2001 में शुरू की गई थी और यह रेडिट, गूगल ग्रुप्स और फेसबुक ग्रुप्स के खिलाफ मजबूती से नहीं टिक सकी।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *