Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली22 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के वाइस चेयरमैन ली जे योंग पर रिश्वत के आरोप के इस मामले में अदालत 18 जनवरी 2021 को रिश्वत के इस मामले में अंतिम फैसला देगी - Dainik Bhaskar

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के वाइस चेयरमैन ली जे योंग पर रिश्वत के आरोप के इस मामले में अदालत 18 जनवरी 2021 को रिश्वत के इस मामले में अंतिम फैसला देगी

  • ली जे योंग ने पूर्व प्रेसिडेंट पार्क ग्यून हे के एक पुराने मित्र को रिश्वत दी थी
  • ली अपने पिता का उत्तराधिकार हासिल करने और सैमसंग ग्रुप पर नियंत्रण लेने में सरकार की मदद चाहते थे

दक्षिण कोरिया की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के वाइस चेयरमैन और सैमसंग ग्रुप के डिफैक्टो प्रमुख माने जाने वाले ली जे योंग को रिश्चत के एक मामले में 9 साल जेल की सजा हो सकती है। मीडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक रिश्वत के इस मामले में दक्षिण कोरिया की पूर्व प्रेसिडेंट पार्क ग्यून हे भी शामिल हैं। बुधवार को अंतिम दौर की एक सुनवाई में प्रॉसिक्यूटर्स ने ली के लिए 9 साल जेल की सजा की मांग की।

अदालत 18 जनवरी 2021 को इस मामले में अंतिम फैसला देगी। सुनवाई के दौरान प्रॉसिक्यूटर्स ने कहा कि सैमसंग बेहद शक्तिशाली कॉरपोरेट ग्रुप है। ऐसा कहा जाता है कि कोरिया में दो तरह की कंपनियां हैं सैमसंग और नॉन-सैमसंग। हमारे समाज के विकास के लिए भ्रष्टाचार के मामले में सख्त रुख अपनाया जाना चाहिए और उदाहरण पेश किया जाना चाहिए।

प्रॉसिक्यूटर्स ने सैमसंग के दो अन्य अधिकारियों के लिए भी 7 साल जेल की सजा की मांग की है

प्रॉसिक्यूटर्स ने सैमसंग के दो अन्य अधिकारियों जांग चूंग की और पार्क सांग जिन के लिए भी 7 साल जेल की सजा की मांग की। फाइनल स्टेटमेंट में ली ने कहा कि मैं दुख के साथ यहां खड़ा हूं। मैं एक नई सैमसंग बनाना चाहता हूं, जो कि हमारे देश के सम्मान के अनुरूप हो और अपने माननीय पिता का अच्छा पुत्र बनना चाहता हूं।

ली जे योंग को शुरू में 5 साल जेल की सजा मिली थी

ली जे योंग के पिता और सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के चेयरमैन और दक्षिण कोरिया के सबसे बड़े कारोबारी समूह सैमसंग ग्रुप के प्रमुख ली कुन ही का 25 अक्टूबर 2020 को 78 साल की उम्र में निधन हो गया है। हर्ट अटैक के बाद 6 साल से ज्यादा समय से वह अस्पताल में भर्ती थे। ली जे योंग को शुरू में 5 साल जेल की सजा मिली थी।

अपील कोर्ट द्वारा सजा घटाने के बाद 1 साल में ही उन्हें बरी कर दिया गया था

रिश्वत के इस मामले में ली जे योंग ने पूर्व प्रेसिडेंट पार्क के एक पुराने मित्र को रिश्वत दी थी। वह अपने पिता का उत्तराधिकारी बनने और सैमसंग ग्रुप का नियंत्रण हासिल करने की कोशिश में सरकार की मदद चाहते थे। हालांकि एक साल बाद उन्हें जेल से बरी कर दिया गया था। अपील कोर्ट ने उनकी सजा की अवधि घटा दी थी और उनपर लगे रिश्वत के अधिकतर आरोपों को खारिज कर दिया था।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *