• Hindi News
  • Business
  • Government Implemented PLI Scheme In 10 Sectors To Encourage Domestic Manufacturing

नई दिल्ली6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

PLI स्कीम के जरिए सरकार ज्यादा प्रोडक्शन करने वाली कंपनियों को इंसेंटिव देगी

  • इस स्कीम के तहत 5 सालों में लगभग 1.46 लाख करोड़ रुपए का आवंटन किया जाएगा
  • कुछ सेक्टर्स में यह पहले ही लागू हो चुकी है

कैबिनेट ने आज की बैठक में 10 सेक्टर्स में प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव्स (PLI) लागू करने की मंजूरी दे दी है। इस स्कीम के तहत 5 सालों में लगभग 1.46 लाख करोड़ रुपए का आवंटन किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार ऑटो कंपोनेंट्स और ऑटोमोबाइल सेक्टर को 57,000 करोड़ रुपए की अधिकतम प्रोत्साहन राशि मिली है। इसके अलावा जिन सेक्टर्स को इसका फायदा होगा उनमें एडवांस सेल केमिस्ट्री, बैटरी, फार्मा, फूड प्रोडक्ट्स और व्हाइट गुड्स शामिल हैं।

इस योजना के अनुसार, केंद्र अतिरिक्त उत्पादन पर प्रोत्साहन प्रदान करेगा और कंपनियों को भारत में बने उत्पादों को निर्यात करने की अनुमति देगा। पिछले महीने नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार के अनुसार PLI स्कीम का लक्ष्य प्रतिस्पर्धात्मक माहौल बनाने के लिए निवेशकों को प्रोत्साहित करना है।

इन सेक्टर्स में PLI स्कीम पहले से चल रही
सरकार ने इससे पहले कुछ सेक्टर्स में इसे लागू कर दिया है, जैसे कि फॉर्मा, मेडिकल डिवाइसेज, मोबाइल फोन और इलेक्ट्रॉनिक मैनुफैक्चरिंग कंपनीज। इन सभी सेक्टर्स के बाद अब सरकार की योजना इसे अन्य सेक्टर में भी लागू करने की है।

PLI स्कीम के तहत आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 नवंबर हुई
इसके पहले PLI स्कीम के तहत आवेदन करने वाली कंपनियों के लिए अंतिम तारीख को बढ़ाकर 30 नवंबर कर दिया गया था। वहीं केंद्र सरकार ने फार्मा एवं मेडिकल डिवाइस इंडस्ट्रीज के लिए PLI स्कीम की शर्तों को आसान किया था।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *