• Hindi News
  • Business
  • BSE Signs MOU With Pataliputra Sarafa Sangh Of Bihar Small Jewelers Will Learn How To Hedge Gold

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक महीने पहले

  • कॉपी लिंक
कमॉडिटी डेरिवेटिव बाजार को और मजबूत करने के मकसद से स्टॉक एक्सचेंज ने बिहार के बुलियन ट्रेड संगठन के साथ सहमति समझौते (MoU) पर हस्ताक्षर किया है - Dainik Bhaskar

कमॉडिटी डेरिवेटिव बाजार को और मजबूत करने के मकसद से स्टॉक एक्सचेंज ने बिहार के बुलियन ट्रेड संगठन के साथ सहमति समझौते (MoU) पर हस्ताक्षर किया है

  • वैल्यू चेन पार्टिसिपेंट्स को प्राइस रिस्क को बेहतर तरीके से मैनेज करने में मदद मिलेगी
  • छोटे ज्वेलर्स गोल्ड की कीमत में उतार-चढ़ाव से होने वाले नुकसान से खुद को बचा सकेंगे

प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज BSE ने मंगलवार को कहा कि उसने बिहार के बुलियन ट्र्रेड और उद्योग संगठन पाटलीपुत्र सराफा संघ के साथ समझौता किया है। कमॉडिटी डेरिवेटिव बाजार को और मजबूत करने के मकसद से स्टॉक एक्सचेंज ने बिहार के बुलियन ट्रेड संगठन के साथ सहमति समझौते (MoU) पर हस्ताक्षर किया है। BSE ने कहा कि इस समझौते से वैल्यू चेन पार्टिसिपेंट्स के विकास में मदद मिलेगी साथ ही उन्हें प्रतिस्पर्धा से निपटने और प्राइस रिस्क को बेहतर तरीके से मैनेज करने में भी मदद मिलेगी।

इस गठबंधन से पाटलीपुत्र सराफा संघ के छोटे ज्वेलर्स को गोल्ड की हेजिंग करने का तरीका सीखने का मौका मिलेगा। इससे वे गोल्ड की कीमत में होने वाले उतार-चढ़ाव से होने वाले नुकसान से खुद को बचा सकेंगे। समझौते के तहत लोगों को कमॉडिटी डेरिवेटिव बाजार और इसके फायदों के बारे में जागरूक करने के लिए और कमॉडिटी स्टॉकहोल्डर्स को एक्सचेंज पर हेज करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सेमिनार व अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लेने की सुविधा मिलेगी।

पाटलीपुत्र सराफा संघ BSE को महंगी धातुओं के कमॉडिटीज कांट्रैक्ट पर नए प्रॉडक्ट को डिजाइन करने में मदद करेगा

पाटलीपुत्र सराफा संघ BSE को महंगी धातुओं के कमॉडिटीज कांट्रैक्ट पर नए प्रॉडक्ट को डिजाइन करने में मदद करेगा। BSE के CBO समीर पाटिल ने कहा कि इस गठबंधन से ज्यादा पार्टिसिपेंट्स को आगे आकर एक्सचेंज पर हेज करने और बुलियन ट्रेड के लिए जरूरी फिजिकल नेटवर्क बनाने में मदद मिलेगी। पाटलीपुत्र सराफा संघ के प्रेसिडेंट विनोद कुमार ने कहा कि संघ के ज्वेलरी कारोबारियों को इस गठबंधन का लाभ मिलेगा। खासतौर से छोटे ज्वेलर्स गोल्ड की हेजिंग प्रक्रिया सीख सकेंगे और गोल्ड की कीमत में होने वाले उतार-चढ़ाव से होने वाले नुकसान से खुद का बचा सकेंगे।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *