• Hindi News
  • Business
  • Nirmala Sitharaman Budget 2021 Update; Focus Will Be On Manufacturing, Agriculture, Pharma And Healthcare

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली21 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के बीच केंद्रीय बजट में अब सिर्फ एक महीने का समय रह गया है। इस बजट में मैन्युफैक्चरिंग, इंफ्रास्ट्रक्चर, एग्रीकल्चर, हाउसिंग और हेल्थकेयर जैसे सेक्टर को फोकस में रखा जा सकता है। सूत्रों के अनुसार बजट ‘आत्मनिर्भर भारत स्कीम’ को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जाएगा। बजट में प्रवासी मजदूरों के लिए भी कुछ घोषणाएं हो सकती हैं, जो महामारी के कारण बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

PLI स्कीम से नई नौकरियां निकलेंगी

2020 में सरकार में प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजना के तहत 10 प्रमुख सेक्टर्स को शामिल किया गया है। इनमें फार्मा, टेलीकॉम, ऑटोमोबाइल, ऑटो कंपोनेंट, टेक्सटाइल और फूड प्रोडक्ट्स भी शामिल हैं। सरकार का मानना है कि इस स्कीम से इन सेक्टर्स में नई नौकरियां तो निकलेंगी ही, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की भी स्थिति सुधरेगी और यह वैश्विक स्तर का बनेगा। कैबिनेट ने इसी साल अक्टूबर में 10 सेक्टर्स में PLI लागू करने की मंजूरी दी थी। इस स्कीम के तहत अगले 5 सालों में इंडस्ट्री को लगभग 2 लाख करोड़ रुपए की मदद दी जाएगी।

ग्लोबल सप्लाई चेन बनेगा भारत

सरकार को उम्मीद है कि विदेशी और घरेलू निवेशक PLI योजना में शामिल सेक्टर्स में इन्वेस्टमेंट करने को उत्सुक होंगे। ऐसे में जब प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग बढ़ेगी, तो एक्सपोर्ट भी बढ़ेगा। इससे भारत प्रमुख ग्लोबल सप्लाई चेन के रूप में विकसित हो सकता है। खास बात यह है कि सरकार PLI योजना को लेकर तब सक्रिय हुई जब चीन से विदेशी निवेशक पैसा निकाल रहे हैं। ऐसे में अनुमान है कि योजना उम्मीद से बेहतर परिणाम देगी।

फार्मा में ऑटोमाइजेशन की जरूरत

एसोचैम के जनरल सेक्रेटरी दीपक सूद ने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर और हाउसिंग सेक्टर में सुधार से नौकरियों की किल्लत खत्म होगी। इसके साथ-साथ देश के अन्य सेक्टर्स में भी सुधार होंगे। उन्होंने कहा कि हमें फार्म सेक्टर में ऑटोमेटाइजेशन करने और ग्रामीण क्षेत्रों में सर्विसेज की पहुंच बढ़ाने पर ध्यान देने की जरूरत है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *