• Hindi News
  • Business
  • Indian Real Estate Industry Growth Forecast Projection; Here’s Knight Frank Latest Report

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

रिपोर्ट के अनुसार, अगले साल बेंगलुरु मार्केट के रेंट में बढ़त देखने को मिल सकती है। जबकि, मुंबई और एनसीआर के मार्केट रेंट में बदलाव की उम्मीद कम है। – फाइल फोटो

  • 2021 में बेंगलुरु और ताइपे प्राइम रेंट में ग्रोथ की उम्मीद
  • इंडिया डेटा सेंटर क्षेत्र ने निवेशकों और बिजनेसमैन का ध्यान आकर्षित किया

आने वाला साल भारतीय रियल स्टेट सेक्टर के लिए बेहतर रहने की उम्मीद है। नाइट फ्रैंक ने इसी से संबंधित अपनी ताजा रिपोर्ट ‘एशिया-पेसिफिक रियल एस्टेट आउटलुक 2021: नेविगेटिंग दी पोस्ट-पैनडेमिक रिकवरी’ को जारी किया है। रिपोर्ट के मुताबिक नए साल में इंडिया का ऑफिस मार्केट मजबूत रहेगा। वहीं, एशिया-पेसिफिक प्राइम ऑफिस रेंट -3% और 0% के बीच रहने की उम्मीद जताई गई है।

डिमांड मजबूत रहे की उम्मीद

रिपोर्ट के अनुसार, अगले साल बेंगलुरु मार्केट के रेंट में बढ़त देखने को मिल सकती है। जबकि, मुंबई और एनसीआर के मार्केट रेंट में बदलाव की उम्मीद कम है। इससे अनुमान जताया गया है कि अप्रैल-जून 2020 के बीच कोई बदलाव न होने के बावजूद, अगले साल ऑफिस स्पेस के लिए ओवरऑल डिमांड मजबूत रह सकती है।

भारत के मुख्य ऑफिस मार्केट के लिए पॉजिटिव ट्रेंड्स दूसरी तिमाही के बाद के हिस्से में प्राप्त प्रोत्साहन का नतीजा हैं, जिसने ऑफिस स्पेस की डिमांड में रिकवरी दर्ज की गई। हालांकि, यह प्री-कोविड अवधि से अभी भी कमी है। वहीं, वैश्विक बाजारों और बड़े टैलेंट पूल की तुलना में शहर को अपेक्षाकृत कम रेंट का फायदा है, जो इस बाजार की तेजी से रिस्ट्रक्चरिंग में मदद करना चाहिए। क्योंकि, वैश्विक अर्थव्यवस्थाएं सामान्य स्थिति की ओर बढ़ रहीं हैं।

ई-कॉमर्स से मिला सपोर्ट

वेयरहाउसिंग की मांग इस साल अपेक्षाकृत लचीली रही। यह FY17 से FY20 तक दर्ज 44% CAGR की तुलना में सालाना केवल 11% से सुधरी है। महामारी के बावजूद भारतीय वेयरहाउसिंग सेक्टर ई-कॉमर्स की बढ़ती मांग के कारण तुलनात्मक रूप से कम प्रभावित होने की उम्मीद है।

ई-कॉमर्स की मांग में वृद्धि के साथ भारत की ऑनलाइन रिटेल ग्रोथ 2020 में सालाना आधार पर 13% पर रहने का अनुमान है। अक्टूबर 2020 में मुंबई, दिल्ली और बेंगलुरु वेयरहाउसिंग के लिए इंडस्ट्रियल रेंट समान रहे और वर्ष 2021 के लिए भी समान रहने की उम्मीद है।

अनलॉक में मिली रियायतों से मिलेगा फायदा

नाइट फ्रैंक इंडिया के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर शिशिर बैजल ने कहा कि वर्ष 2020 में महामारी के कारण दूसरी तिमाही में कम एक्टिविटी हुई। इससे देश के रियल एस्टेट सेक्टर में सेगमेंट दब गए। हालांकि सरकार और रिजर्व बैंक के पॉजिटिव कदम उठाए जाने के साथ हमने 2020 की तीसरी तिमाही में फिर से ग्रोथ देखी। वहीं, कोविड के लिए मास वैक्सीन की खबर से ऑफिस सेक्टर भी दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों के खुलने के साथ रिस्ट्रक्चरिंग देखने की उम्मीद कर रहा है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *