नई दिल्ली7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के एमडी और सीईओ वी वैद्यनाथन ने गणित शिक्षक को 1 लाख इक्विटी शेयर ट्रांसफर किए हैं।

  • 30 साल से गणित के शिक्षक की तलाश कर रहे थे आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के एमडी
  • 2018 में भी ड्राइवर, मेड और सहकर्मियों को गिफ्ट में दिए थे 20 करोड़ के शेयर

दान के लिए मशहूर आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के एमडी और सीईओ वी वैद्यनाथन ने एक बार फिर अनूठा काम किया है। वैद्यनाथन ने गुरु को सम्मान देते हुए अपने स्कूल टीचर गुरदयाल स्वरूप सैनी को 30 लाख रुपए की वैल्यू के शेयर ट्रांसफर किए हैं। बैंक की ओर से जारी बयान के मुताबिक, बचपन में मदद के लिए आभार जताने के उद्देश्य से वैद्यनाथन ने यह शेयर ट्रांसफर किए हैं।

बैंक ने रेगुलेटरी फाइलिंग में दी जानकारी

बैंक की ओर से दाखिल की गई रेगुलेटरी फाइलिंग में सीईओ ने स्पष्ट किया है कि कंपनीज एक्ट के तहत सैनी संबंधी पार्टी नहीं हैं। फाइलिंग में कहा गया है कि वे इस ट्रांसफर पर लागू होने वाले कानून के तहत टैक्स का भुगतान करेंगे। रेगुलेटरी फाइलिंग के मुताबिक, वैद्यनाथन ने सैनी को आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के 1 लाख फुली पेड-अप इक्विटी शेयर ट्रांसफर किए हैं। वैद्यनाथन ने यह शेयर अपनी हिस्सेदारी में से गिफ्ट के तौर पर ट्रांसफर किए हैं।

बिरला इंस्टीट्यूट में दाखिल में की थी मदद

जानकारी के मुताबिक, वैद्यनाथन बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में दाखिले के लिए रांची जाना चाहते थे। उस समय वैद्यनाथन के पास पैसे नहीं थी। ना ही वे परिवार के संपर्क में थे। तब गणित के शिक्षक सैनी ने ट्रेन की टिकट खरीदने के लिए वैद्यनाथन को 500 रुपए दिए थे। समय पर मदद करने के लिए वैद्यनाथन बीते 30 सालों से अपने शिक्षक की तलाश कर रहे थे। कुछ साल पहले सैनी आगरा में मिले और वैद्यनाथन ने मदद करने के लिए धन्यवाद जताया।

केंद्रीय विधालय पठानकोट में मिले थे सैनी

वैद्यनाथन का जन्म चेन्नई में हुआ था। देश के अलग-अलग शहरों में केंद्रीय विधालय में उनकी पढ़ाई हुई है। केंद्रीय विधालय पठानकोट में पढ़ाई के दौरान उनकी मुलाकात शिक्षक सैनी से हुई थी। वैद्यनाथन ने कैपिटल फर्स्ट नाम से एनबीएफसी की स्थापना की। दिसंबर 2018 में में आईडीएफसी बैंक के साथ कैपिटल फर्स्ट का विलय हो गया। इससे विलय के बाद आईडीएफसी फर्स्ट बैंक अस्तित्व में आया।

पहले भी गिफ्ट में शेयर दे चुके हैं वैद्यनाथन

यह पहला मौका नहीं है जब वैद्यनाथन ने गिफ्ट में शेयर किए हैं। 2018 में कैपिटल फर्स्ट के चेयरमैन के दौर पर वैद्यनाथन ने अपने दो ड्राइवर, 3 मेड, कुछ सहकर्मियों और परिवार के सदस्यों को 20 करोड़ की वैल्यू के 4.30 लाख शेयर गिफ्ट में दिए थे। गुरुवार को आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयर (दोपहर 2.40 बजे) 1.34 फीसदी की तेजी के साथ 30.35 रुपए प्रति शेयर पर कारोबार कर रहे थे।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *