• Hindi News
  • Business
  • Income Tax Saving Investments 2020 21 | How To Save Income Tax? Savings Bank Account, Education Allowance, Tuition Fee

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

2020-21 के लिए 31 मार्च 2021 तक इनकम रिटर्न फाइन करना है। ऐसे में रिटर्न फाइल करने से पहले आपको इस बात की पूरी और सही जानकारी होनी चाहिए कि आप किन खर्चों या निवेश पर टैक्स छूट का लाभ ले सकते हैं। आप अपने बच्चे के ट्यूशन फीस या उसके एजुकेशन लोन सहित उस पर किए गए कई अन्य खर्चों पर भी टैक्स छूट के लिए क्लेक कर सकते हैं। हम आपको बच्चों पर किए गए ऐसे ही खर्च या निवेशों के बारे बता रहे हैं जिन पर आप छूट ले सकते हैं।

बच्चे के नाम पर करें निवेश
अगर आपकी बेटी की उम्र 10 साल से कम है तो आप अपनी बेटी के लिए सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करके 80C के तहत 1.5 लाख तक के निवेश पर टैक्स छूट ले सकते हैं। इसके अलावा अगर आपकी बेटी 10 साल से बड़ी है या बेटा है तो आप PPF या यूलिप (ULIP) सहित अन्य ऐसी योजनाओं में निवेश कर सकते हैं, जहां आपको 80C के तहत टैक्स बेनिफिट मिल सके।

हेल्थ इंश्योरेंस पर 25 हजार रुपए तक का डिडक्शन
अपने बच्चों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान करने पर भी आप टैक्स बचा सकते हैं। इसमें सेक्शन 80D के तहत 25 हजार रुपए तक का डिडक्शन लिया जा सकता है।

टर्म लाइफ इंश्योरेंस लेने पर भी ले सकते हैं छूट
टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान के लिए चुकाए गए प्रीमियम की रकम पर आप इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ ले सकते हैं। सेक्शन 80C के तहत टैक्स लाभ लेने के लिए आपको हर साल नया प्लान लेने की जरूरत नहीं है। एक पॉलिसी में सालाना आपका रिन्यूअल प्रीमियम भी सेक्शन 80C के तहत कर छूट पाने के योग्य है।

दो बच्चों की ट्यूशन फीस पर राहत
आप दो बच्चों के लिए स्कूल/कॉलेज की ट्यूशन फीस पर भी सेक्शन 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स बेनिफिट ले सकते हैं। यदि आपके दो से अधिक बच्चे हैं, तो आप किसी भी दो बच्चे के लिए यह दावा कर सकते हैं। इसके लिए शर्त यह है कि भारत में स्थित विश्वविद्यालय, कॉलेज, स्कूल या अन्य शैक्षणिक संस्थान को फीस का भुगतान किया जाना चाहिए।
टैक्स में राहत केवल पूर्णकालिक शिक्षा (फुल टाइम एजुकेशन) के लिए ही उपलब्ध है। टैक्स राहत के दायरे में निजी ट्यूशन, कोचिंग क्लास या कोई पार्ट टाइम कोर्स नहीं आता।

एजुकेशन लोन पर सेक्शन 80E का ले सकते हैं लाभ
अपने बच्चों के लिए लिए गए एजुकेशन लोन के लिए आप सेक्शन 80E के तहत टैक्स डिडक्शन को क्लेम कर सकते हैं। बच्चे की हायर एजुकेशन के खर्च के लिए बैंक से एजुकेशन लोन ले सकते हैं।

इलाज के खर्च पर भी ले सकते हैं टैक्स छूट
सेक्शन 80DDB के तहत अपने किसी आश्रित की गंभीर और लंबी बीमारी के इलाज में खर्च की गई रकम पर आय कर कटौती मिलती है। कोई आय कर दाता अपने माता-पिता, बच्चे, आश्रित भाई-बहनों और पत्नी के इलाज में खर्च की गई रकम की कटौती के लिए दावा कर सकता है। इनमें कैंसर, हीमोफीलिया, थैलीसीमिया और एड्स आदि बीमारियां शामिल हैं। बच्चे के लिए यह कटौती 40 हजार रुपए होती है। इसके लिए मेडिकल सर्टिफिकेट जरूरी है।

खबरें और भी हैं…



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *