• Hindi News
  • Business
  • World Bank Corrects Ease Of Doing Business Rankings After Probe Indias Ranking Unchanged China Slips 7 Ranks

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

विश्व बैंक ने शुक्रवार को कहा कि 2018 की सूची में चीन की रैंकिंग बदलने के अलावा 2020 की सूची में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और अजरबेजान की रैंकिंग में भी सुधार किया गया है

  • UAE की रैंकिंग को 2020 की रिपोर्ट में 16 पर बरकरार रखा गया
  • सऊदी अरब की रैंकिंग को 62 से नीचे खिसकाकर 63 कर दिया गया
  • अजरबेजान की रैंकिंग को 34 से ऊपर उठाकर 28 कर दिया गया

विश्व बैंक ने 2018 और 2020 की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग के डाटा में हुई गलती को सुधार लिया है। इस सुधार के तहत बैंक ने 2018 की सूची में चीन को 7 पायदान नीचे खिसका दिया। बैंक ने भारत की रैंकिंग में हालांकि कोई बदलाव नहीं किया।

विश्व बैंक ने शुक्रवार को कहा कि 2020 की सूची में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और अजरबेजान की रैंकिंग में भी सुधार किया गया है। UAE की रैंकिंग को 2020 की रिपोर्ट में 16 पर बरकरार रखा गया, जबकि सऊदी अरब की रैंकिंग को 62 से नीचे खिसकाकर 63 कर दिया गया। अजरबेजान की रैंकिंग को 34 से ऊपर उठाकर 28 कर दिया गया।

चीन की रैंकिंग को 78 से नीचे खिसकाकर 85 किया गया

पुरानी रिपोर्ट्स के आंकड़ों में कई बदलाव के मामले का पता चलने के कारण विश्व बैंक ने इसी साल अगस्त में डूइंग बिजनेस रिपोर्ट का प्रकाशन रोकने का फैसला किया था। शुक्रवार को बैंक ने कहा कि 2018 की रिपोर्ट में चीन को 65.3 का स्कोर मिला था और उसे 2017 की 78वीं ग्लोबल रैंकिंग पर बरकरार रखा गया था। सुधार के बाद 2018 की रिपोर्ट में चीन का स्कोर 64.5 कर दिया गया और रैंकिंग को 7 पायदान नीचे खिसका कर 85 कर दिया गया।

27 अगस्त को विश्व बैंक ने रिपोर्ट का प्रकाशन रोकने की घोषणा की थी

समीक्षा की कवायद में बैंक ने 2016, 2017, 2018, 2019 और 2020 की रिपोर्ट साइकिल में बैंक के अंदर डाटा के सर्कुलेशन और अंतिम प्रकाशन के बीच हुए बदलाव की जांच की। बैंक ने कहा कि डूइंग बिजनेस टीम मेंबर्स ने अनियमितता की जानकारी संबंधित प्रबंधन को दी थी, जिसके बाद रिपोर्ट पर रोक लगाकर जांच शुरू कर दी गई थी। इसकी घोषणा 27 अगस्त 2020 को की गई थी। बैंक ने एक्सटर्नल रिव्यू भी शुरू किया है, जिसकी रिपोर्ट मध्य 2021 में आने का अनुमान है।

अगली रिपोर्ट में संशोधनों को शामिल किया जाएगा

बैंक ने अपनी जांच के बाद जो भी संशोधन किए हैं उन्हें मार्च में आने वाली अगली रिपोर्ट में शामिल किया जाएगा। 27 अगस्त को बैंक ने कहा था कि 2018 और 2020 की रिपोर्ट के आंकड़ों में अनियमितता हुई हैं। ये रिपोर्ट अक्टूबर 2017 और 2019 में प्रकाशित हुई थीं।

5 साल में भारत की रैंकिंग 79 पायदान सुधरी

डूइंग बिजनेस 2020 रिपोर्ट में भारत की रैंकिंग 14 पायदान ऊपर उठकर 63वीं पर आ गई थी। पिछले पांच साल में (2014-19) भारत की रैंकिंग में 79 पायदान का सुधार हुआ है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *