Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • रेटिंग एजेंसी मूडीज के बाद गोल्डमैन सैश ने भी वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भारत की जीडीपी के अनुमान में सुधार किया है
  • भारत के आर्थिक विकास दर के आकलन को सुधारते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था में -10.3% ग्रोथ का पूर्वानुमान किया गया है

वित्त वर्ष 2021 के लिए भारत के आर्थिक विकास दर के आकलन को सुधारते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था में -10.3 फीसदी ग्रोथ का पूर्वानुमान किया गया है। रेटिंग एजेंसी मूडीज के बाद गोल्डमैन सैश (Goldman Sachs) ने भी वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भारत की जीडीपी के अनुमान में सुधार किया है।

ग्लोबल रिसर्च फर्म और रेटिंग एजेंसी Goldman Sachs ने मंगलवार को मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था के प्रदर्शन के अपने पूर्वानुमान -14.8 फीसदी को सुधारकर-10.3 फीसदी कर दिया है।

वैक्सीन की घोषणा के चलते अनुमान में सुधार

Goldman Sachs ने प्रभावी वैक्सीन की घोषणा के चलते अनुमान में सुधार किया है, जो प्रभावी नीतियों और गतिशीलता प्रदान कर सकता है। रेटिंग एजेंसी का कहना है कि अगले वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था दुनिया में सबसे तेजी से ग्रोथ करेगी, लेकिन पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले वित्त वर्ष 2021 में भारतीय अर्थव्यवस्था में -10.3 की गिरावट देखने को मिलेगी।

इससे पहले Moody’s ने भी सुधारा था अनुमान

बता दें कि इससे पहले रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भी वित्त वर्ष 2020-21 के लिए जीडीपी की ग्रोथ के अनुमान में सुधार किया था। Moody’s की ताजा रिपोर्ट में इमर्जिंग मार्केट में आर्थिक एक्टिविटी में सुधार की बात कही है। इसमें भारत, अर्जेंटीना, ब्राजील, मैक्सिको, इंडोनेशिया, टर्की और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं। रेटिंग एजेंसी ने 2020 के लिए भारत की GDP के अनुमान में बदलाव किया है। नए अनुमान के मुताबिक 2020 में भारत की GDP 8.9% नीचे गिर सकती है। एजेंसी ने पहले 9.6% की गिरावट का अनुमान जताया था।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *