• Hindi News
  • Business
  • Intelligent Data Is Digital Capital; India’s Future Now AI Ready: Mukesh Ambani

नई दिल्ली5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • एआई वर्चुअल शिखर सम्मेलन 5 से 9 अक्टूबर 2020 तक चलेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सोमवार को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) पर मेगा वर्चुअल शिखर सम्मेलन RAISE 2020 का उद्घाटन किया है। यह वर्चुअल शिखर सम्मेलन 5-9 अक्टूबर, 2020 तक होगा। सरकार द्वारा ‘रिस्पांसिबल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फॉर सोशल एंपावरमेंट’ या RAISE 2020 का आयोजन उद्योग और शिक्षा के साथ साझेदारी में किया गया है। इसका लक्ष्य स्वास्थ्य, शिक्षा और कृषि क्षेत्रों में परिवर्तन करना होगा।

‘इंटेलीजेंट डाटा ही डिजिटल पूंजी है’

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आयोजित वर्चुअल सम्मेलन RAISE 2020 में बोलते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि इंटेलीजेंट डाटा ही डिजिटल पूंजी है। मुकेश अंबानी ने कहा कि 5G भारत में जल्द आने वाला है। मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत 5G टेक्नोलॉजी में लीडिंग पोजिशन हासिल करने की स्थिति में है। देश के कोने-कोने में 5जी नेटवर्क का विस्तार होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश के सबसे दूर और कोने वाले स्थान पर भी इंटरनेट का प्रसार किया जा रहा है।

‘एआई के जरिए भारत का भविष्य तैयार हो रहा है’

मुकेश अंबानी ने कहा कि, एआई के जरिए भारत का भविष्य तैयार हो रहा है। एआई ने कोविड -19 महामारी से उत्पन्न कठिनाइयों पर काबू पाने की उम्मीद जगाई है। अंबानी ने कहा कि 6 साल पहले पीएम मोदी ने डिजिटल इंडिया अभियान की शुरुआत की थी और इसे देश की शीर्ष प्राथमिकता बनाया। देश में 99 फीसदी से ज्‍यादा नागरिकों तक 4G ब्रॉडबैंड पहुंचाया जा चुका है। मोबाइल डाटा उपभोग के मामले में भारत 155वें पायदान से दुनिया में पहले नंबर पर पहुंच चुका है।

‘हम एआई में वर्ल्ड लीडर बन सकते हैं’

इस समय भारत के पास ऐसे सभी साधन उपलब्ध हैं, जिनकी मदद से हम आर्टिफिशियल सेक्टर में वर्ल्ड लीडर बन सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि डाटा एआई के लिए राॅ-मटेरियल है। यह सही समय है और हमारे पास सभी साधन तैयार हैं, जिनसे भारत एआई सेक्टर में वर्ल्ड लीडर की तरह काम कर सकता है। भारत के युवा, इंडस्ट्री और पूरा देश उस एजेंडा को लागू करने के लिए तैयार है जो एआई को बढ़ावा दे। देश हर उसे एजेंडा को लागू करने को तैयार है जो देश को मजबूत और नया भारत बनाने के लिए काम करे।

भारत ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क का तेजी से विस्तार कर रहा है

अंबानी ने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि सरकार डेटा गोपनीयता सुनिश्चित करने के लिए कुछ डेटा विनियमन स्ट्रक्चर पेश करेगी। इस सम्मेलन को संबोधित करते उन्होंने ने कहा कि महामारी की स्थिति में भारत की डिजिटल तत्परता ने बड़ी मदद की। हम जल्द से जल्द और सबसे कुशल तरीके से लोगों की मदद करने के लिए पहुंच गए। भारत अपने ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क का तेजी से विस्तार कर रहा है। उन्होंने कहा है कि मेक इन इंडिया के जरिए हम देश में ही डिजिटल डिवाइस, सेंसर और दूसरे उपकरणों का अफोर्डेबल मैन्युफैक्चरिंग क्षमता तैयार कर रहे हैं। यही नहीं, भारत वर्ल्ड-क्‍लास डाटा सेंटर्स की मदद से से कंप्यूटर पावर के मामले में दुनिया का नेतृत्व कर रहे हैं। मॉडर्न टेक्‍नोलॉजी की मदद से प्रोडक्टिविटी को बढ़ावा मिल रहा है।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *