नई दिल्ली28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • यह दूरसंचार क्षेत्र का सरकार के समर्थन वाला कार्यक्रम है

इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) का आयोजन वर्चुअल तरीके से 8-10 दिसंबर तक किया जाएगा। यह दूरसंचार क्षेत्र का सरकार के समर्थन वाला कार्यक्रम है। सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) के महानिदेशक एस पी कोचर ने सोमवार को इस आयोजन की घोषणा करते हुए कहा कि इसमें भारी भागीदारी की उम्मीद है।

दूरसंचार सचिव अंशु प्रकाश ने कहा कि इस बात को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे कि क्या यह कार्यक्रम 2020 में आयोजित हो पाएगा। उन्होंने कहा कि चुनौतियों के साथ यह कार्यक्रम अवसर भी प्रदान करता है। प्रकाश ने कहा कि दूरसंचार विभाग आईएमसी-2020 सफल बनाने के लिए पूरा समर्थन उपलब्ध कराएगा।

दूरसंचार सचिव ने कहा कि मुझे बताया गया है कि यह दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा प्रौद्योगिकी आयोजन है। हमें इस पर आगे बढ़ना है। दूरसंचार विभाग कम से कम 30 लघु एवं मझोले उपक्रमों (एसएमई) तथा स्टार्ट-अप कंपनियों का इस आयोजन में भागीदारी के लिए फाइनेंस कर रहा है।

सीओएआई के चेयरमैन अजय पुरी ने कहा कि दुनियाभर से वरिष्ठ कार्यकारी इस कार्यक्रम में भाग लेंगे। कोचर ने कहा कि इस कार्यक्रम में 15,000 से अधिक भागीदारों के भाग लेने की उम्मीद है।

इस मौके पर संचार राज्यमंत्री संजय धोत्रे ने वीडियो संदेश में कहा पिछले छह साल के दौरान बेस स्टेशनों की संख्या में 220 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और आज मोबाइल टेलीफोनी देश के कोने-कोने में पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि आईएमसी-2020 में प्रौद्योगिकी से जुड़ी पहल को प्रदर्शित किया जाएगा।



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *