Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली23 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
इन पांचों में से किसी ने भी भारतीय बाजार पर किआ मोटर्स जितना प्रभाव नहीं डाला है। वर्तमान में  किआ केवल तीन प्रोडक्ट्स के साथ देश में चौथा सबसे अधिक बिकने वाला ब्रांड है। - Dainik Bhaskar

इन पांचों में से किसी ने भी भारतीय बाजार पर किआ मोटर्स जितना प्रभाव नहीं डाला है। वर्तमान में किआ केवल तीन प्रोडक्ट्स के साथ देश में चौथा सबसे अधिक बिकने वाला ब्रांड है।

  • हाल ही में निसान में भारत में अपनी कॉम्पैक्ट एसयूवी मैग्नाइट लॉन्च की
  • जीप भारत में कंपास बेस्ड 7-सीटर एसयूवी लॉन्च करने की तैयारी में है

भारतीय मोटर वाहन उद्योग बीते दस सालों में काफी प्रतिस्पर्धी बन गया है। एक ओर जहां कई प्रसिद्ध कंपनियों ने सालों की उपस्थिति के बाद देश से अपना कारोबार समेटा, वहीं दूसरी और कुछ ब्रांड ने नए होने के बावजूद अपनी बेहतरीन रणनीति से बाजार में अपनी अलग पहचान बनाई। यहां हम आपको ऐसी ही पांच ब्रांड्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने इस दशक बाजार में एंट्री की। नीचे देखें लिस्ट…

1. इसुजु (2012)

इसुजु ने लाइफस्टाइल स्पेस में पिकअप ट्रकों को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से घरेलू बाजार में प्रवेश किया। लेकिन, यह दक्षिण पूर्व एशियाई बाजारों में उतनी बड़ी सफलता नहीं पा सका और अब कंपनी नेक्स्ट-जनरेशन MU-X की भारत में लॉन्च करने की तैयारी में लगी है।

160 किमी. चलने वाली हीरो AE 47 से लेकर एनफील्ड की 650cc क्रूजर तक, इन 5 बाइक्स पर टिकी हैं सबकी निगाहें

2. डैटसन (2013)

निसान मोटर ने उभरते बाजारों में वॉल्यूम हासिल करने की उम्मीद के साथ भारत में डैटसन ब्रांड को पुनर्जीवित किया। अपने शुरुआती दौर में, जापानी ब्रांड ने अपनी मास मार्केट अपीलिंग लाइनअप से अच्छे सेल्स नंबर हासिल किए। हालांकि, जैसे-जैसे साल बीतते गए, रेडीगो, दो और गो प्लस निर्माता अपनी गति को बनाए नहीं रख सका, यहां तक की मैग्नाइट की भी शुरुआत में डैटसन के साथ आने की उम्मीद थी। निसान के पास अपने मौजूदा पोर्टफोलियो में केवल किक्स मिड-साइज एसयूवी है, आखिरकार कॉम्पैक्ट एसयूवी मैग्नाइट को कंपनी ने अपने ब्रांड के तहत लॉन्च किया गया।

फैमिली कार मारुति 800 से लेकर प्रीमियम होंडा सिविक तक, पिछले 10 सालों में बाजार से बाहर हुईं ये 20 कारें; देखें लिस्ट

3. जीप (2016)

कंपास के आना गेम चेंजर साबित हुआ लेकिन नए उत्पादों की कमी ने बिक्री को नुकसान पहुंचाया है। फेसलिफ्टेड कम्पास को आने वाले समय में लॉन्च किया जाना है, जबकि कंपास पर बेस्ड एक 7-सीटर एसयूवी फिलहाल कंपनी की पाइपलाइन में हैं।

भारत में सबसे ज्यादा बिकती हैं मारुति-हुंडई की ये चार कारें, लेकिन सेफ्टी के मामले में हैं फिसड्डी

4. एमजी मोटर्स (2017)

एमजी मोटर इंडिया ने पिछले साल हेक्टर उसके बाद जेडएस ईवी, हेक्टर प्लस और हाल ही में ग्लॉस्टर को भारतीय बाजार में लॉन्च किया। ब्रिटिश कार निर्माता ने कनेक्टेड टेक्नोलॉजी के साथ प्रीमियम एसयूवी स्पेस में काफी प्रभाव डाला है और कंपनी अब रेगुलर ZS का पेट्रोल वर्जन और 7-सीटर हेक्टर लॉन्च करने की तैयारी में है।

नई कार का है प्लान तो करिए थोड़ा इंतजार; नए साल के पहले महीने में ही लॉन्च हो रही हैं ये 7 कारें, देखें लिस्ट

5. किआ मोटर्स (2019)

इन पांचों में से किसी ने भी भारतीय बाजार पर किआ मोटर्स जितना प्रभाव नहीं डाला है। यह वर्तमान में अपने पोर्टफोलियो में केवल तीन प्रोडक्ट्स के साथ देश में चौथा सबसे अधिक बिकने वाला ब्रांड बन गया है। किआ ने सेल्टोस मिड-साइज एसयूवी के साथ शुरुआत की और बिक्री चार्ट का नेतृत्व किया और इसके बाद तीन वैरिएंट में कार्निवल प्रीमियम एमपीवी को लॉन्च किया। कुछ महीने पहले, दक्षिण कोरियाई ब्रांड ने सोनेट कॉम्पैक्ट एसयूवी लॉन्च की और इसने सेगमेंट में लीडिंग स्टेट्स भी हासिल किया।

कोरोना ही नहीं बल्कि इन 10 गैजेट्स के लिए भी याद रहेगा 2020, कुछ के आने का अभी भी इंतजार



Source link

By Raj

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *